शिल्पकार बेच रहा सोने-चांदी के मास्क

Published on BNI NEWS 2020-12-02 12:35:20


  • Notice: Undefined variable: news_heading_details in /home/suratxyz/indiaupdate.in/websitelayout2/detail.php on line 613

    • 02-12-2020
    • 713 Views

    पूरी दुनिया में कोरोना वायरस का प्रकोप जारी है. अब इस महामारी से बचने के लिए लोग लगातार मास्क का उपयोग कर रहे हैं. दुनियाभर की तमाम सरकारों ने अपने नागरिकों को बता दिया है कि जब तक वैक्सीन नहीं आती तब तक मास्क ही वैक्सीन है. इसी बीच तुर्की के एक शिल्पकार ने सोने-चांदी के मास्क बनाने शुरू कर दिए. शिल्पकार का यह भी मानना है कि इस मास्क से कोरोना वायरस का संक्रमण नहीं होगा.
    दरअसल, तुर्की में अब मास्क को फैशन डिजाइनिंग का रूप दिया जा रहा है. शिल्पकार साबरी डेमिरसी ने मास्क को बाकायदा सोने और चांदी से बनाना शुरू कर दिया है. उन्होंने अपनी दुकान में ऐसे ही मास्क बेचने शुरू कर दिए हैं.
    Dailysabah.com की एक रिपोर्ट के मुताबिक, 43 वर्षीय शिल्पकार साबरी डेमिरसी लगभग 32 वर्षों से सोने-चांदी का काम कर रहे हैं. उनकी खुद की एक बड़ी दुकान भी है, जिसे बीच में महामारी के चलते बंद करना पड़ा था. लेकिन हाल ही में उसे फिर से खोला गया है.
    उन्होंने अपनी दुकान में अब फैशन से भरपूर मास्क रखने शुरू कर दिए. इतना ही नहीं उन्होंने सोने-चांदी के मास्क भी बनाने शुरू कर दिए. डेमिरसी का मानना है कि चांदी में जीवाणुरोधी गुण होते हैं. महामारी के दौरान घर पर बिताए समय के दौरान उन्होंने चांदी के मास्क को बनाने का फैसला किया.
    उन्होंने अपनी दुकान में मास्क के लिए एक सांचे पर काम शुरू किया, जिसे उन्होंने जून में पूरा कर लिया. इसके बाद उन्होंने सोने और चांदी के मास्क का निर्माण शुरू किया और जब दुकान दोबारा खोलने का आदेश मिला तो इसे बेचने का काम भी शुरू कर दिया.